Solar Panel व Solar System क्या है? Free में सोलर पैनल कैसे लगवाए? घर पर सोलर पैनल लगाने में कितना खर्च आता है?

By | October 3, 2023

Solar Panel व Solar System क्या है? घर पर सोलर पैनल लगाने में कितना खर्च आता है? मैं आप लोगों को इस आर्टिकल के माध्यम से Solar Panel क्या होता है और आप अपने घर में हैं सोलर सिस्टम को लगवाना चाहते हैं तो आपके घरों में सोलर सिस्टम लगाने में कितना खर्चा आएगा संबंधी जानकारी विस्तार पूर्व के प्रदान करेंगे इसलिए अपने निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े:-

Solar Panel व Solar System क्या है?

सोलर पैनल एक ऐसा उपकरण है जो सूर्य के ऊर्जा से चार्ज होकर Electric Energy का रूप धारण कर लेता है अगर आप लोगों को अपने घरों एवं ऑफिस में ,दुकान एवं कार्यालय सोलर पैनल लगवाने का प्लान कर रहे हैं तो सबसे पहले यह जानकारी होना काफी आवश्यक है की सोलर पैनल क्या होता है सोलर पैनल लगाने में कितना खर्च आएगा और यह कैसे कार्य करता है |

तो मैं आप लोगों को बता दूं कि सोलर पैनल उपकरण है जो छोटी-छोटी Cells जो धातु से बनी होती है जिसके द्वारा सूर्य किरण  को अवशोषित करके विद्युत ऊर्जा में परिवर्तन होता है |

सोलर सिस्टम की कीमत | Solar Panel Price in india

Solar Panel Price:-यदि आप लोगों को सोलर सिस्टम खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो मैं आप लोगों को बता दूं कि सोलर सिस्टम की कीमत देश के प्रत्येक क्षेत्र में अलग-अलग होते हैं एवं सोलर पैनल की कीमत उसकी क्षमता का अनुसार निर्भर करता है क्योंकि सोलर सिस्टम कई उपकरणों को मिलकर बनता है एक सोलर सिस्टम निम्न उपकरण को मिलाकर बनता है |

  1. सोलर पैनल
  2. इनवर्टर
  3. बैटरी
  4. सोलर पैनल ढांचा

ऊपर दिए के उपकरण के ऊपर सोलर सिस्टम का कीमत निर्भर होता है |

Also Read: Solar Panel Releted Article:

1.3 KW Solar Kimat 2023
2.यह हैं भारत के सबसे पॉपुलर सोलर पैनल जानिए क्या खास हैं
3.सबसे अच्छा सोलर पैनल कौन सा है?
4.Sabse Accha Solar Inverter
5.3 किलोवाट सोलर सिस्टम की कीमत क्या है?
6.Solar Panel Dealership kaise Le
7.100 वाट सोलर पैनल की कीमत क्या है?
8.15 किलोवाट सोलर सिस्टम की कीमत क्या है?
9.20 किलोवाट सोलर सिस्टम कीमत क्या है?

1. सोलर पैनल (Solar Panel)

सोलर सिस्टम का सोलर पैनल एक ऐसा उपकरण है जो सूर्य के प्रकाश को अवशोषित करके विद्युत ऊर्जा रूप में परिवर्तन करता है यह सोलर पैनल मुख्य रूप से भारत में दो प्रकार के पाए जाते हैं पहला पॉलीक्रिस्टलाइन (Polycrystalline) और दूसरा मोनोक्रिस्टलाइन (Monocrystalline) होता है |

पॉलीक्रिस्टलाइन (Polycrystalline) पैनल पुरानी तकनीक का होता है पुरानी तकनीक होने के कारण सभी परिस्थितियों संपूर्ण रूप से कार्य नहीं करता है जैसे ही बारिश का मौसम आता है तो बादल होने से कार्य नहीं करता है इसकी कीमत की बात करें तो लगभग ₹30000 हो सकता है  किलोवाट के अनुसार सोलर पैनल का कीमत का लिस्ट निम्न रूप से प्रदान किया हूं |

सोलर पैनल की क्षमताPanels  की संख्याकीमत
1kw Solar Panel330w के 3Rs.30,000
2kw Solar Panel330w के 6Rs.60,000
3kw Solar Panel330w के 9Rs.90,000
4kw Solar Panel330w के 12Rs.120,000
5kw Solar Panel330w के 15Rs.150,000
6kw Solar Panel330w के 18Rs.180,000
7kw Solar Panel330w के 21Rs.210,000
8kw Solar Panel330w के 24Rs.240,000
9kw Solar Panel330w के 27Rs.200,000
10kw Solar Panel330w के 30Rs.300,000

मोनोक्रिस्टलाइन (Monocrystalline) नई तकनीक का होता है यह साधारण पैनल की तुलना में यह  पैनल अच्छी तरह से कार्य करता है यह बारिश के समय भी   हम लोग को बिजली प्रदान करता है अगर आप लोग सोलर सिस्टम के इस सोलर पैनल की कीमत की बात करें तो इसकी कीमत लगभग ₹35000 हो सकता है किलोवाट के अनुसार सोलर पैनल के कीमतों का लिस्ट निम्न रूप से प्रदान किया गया है

सोलर पैनल की क्षमताPanels की संख्याकीमत
1kw Solar Panel500w के 2Rs.35,000
2kw Solar Panel500w के 4Rs.70,000
3kw Solar Panel500w के 6Rs.105,000
4kw Solar Panel500w के 8Rs.140,000
5kw Solar Panel500w के 10Rs.175,000
6kw Solar Panel500w के 12Rs.210,000
7kw Solar Panel500w के 14Rs.245,000
8kw Solar Panel500w के 16Rs.280,000
9kw Solar Panel500w के 18Rs.315,000
10kw Solar Panel500w के 20Rs.350,000

2. इनवर्टर (Inverter)

Solar Panel Inverter: सोलर पैनल का इनवर्टर दूसरा महत्वपूर्ण उपकरण है जिसका मुख्य कार्य है सोलर पैनल के द्वारा उत्पन्न बिजली को DC करंट को AC करंट परिवर्तन करना है सोलर इन्वर्टर का कीमत पूरे सोलर सिस्टम के कीमत का 25% होता है |

सोलर इन्वर्टर मॉडल्स (Solar Panel Models)सेल्लिंग प्राइस (Celling Price)प्राइस/वाट (Price Watt)
750VA/12V750 रुपए₹75
1100VA/12v₹1300₹65
1400VA/12V₹190047 रुपए
1800 VA24V ₹240048 रुपए
2.5KVA/48V₹4000₹53
3.7KVA/48V ₹600048 रुपए
7.5KVA/96V 7500 रुपए41 रुपए
9.5KVA/96 V11500 रुपए₹34

3.बैटरी (Battery)

Solar Panel Battery : सोलर सिस्टम में सोलर पैनल के द्वारा उत्पन्न बिजली को एकत्र करने  के लिए बैटरी का उपयोग करते है क्योंकि रात के समय सोलर पैनल को सूर्य का ऊर्जा नहीं प्राप्त होने के कारण सोलर पैनल कार्य करना बंद कर देता है इस समय हम लोगों को बिजली के लिए बैटरी का जरूरत पड़ता है बैटरी को बिजली एकत्र करने की क्षमता को दर्शाने के लिए Ah का उपयोग करते हैं जिसमें अधिकतर 150Ah बैटरी बाजार में बिकता है इस बैटरी से हम लोग लगभग तीन से चार घंटा तक 400 वाट का बिजली का उपयोग अपने घरेलू कार्य में कर सकते हैं |

अगर हम लोग 150MAh बैटरी की कीमत की बात करें तो इसकी कीमत बाजार में लगभग 13000 पैसे लेकर 14000 तक हो सकता है इस बैटरी की वारंटी 3 साल के लिए दी जाती है |

4. सोलर पैनल ढांचा (Solar Panel Structure)

Solar Panel Structure:- सोलर सिस्टम के सोलर पैनल को लगाने के लिए सही ढांचे का उपयोग करना चाहिए क्योंकि सोलर पैनल हम लोग छत के ऊपर लगाते हैं और जब तेज हवा चलेगी तो यह टूट के गिर भी सकती है इसके साथ ही सोलर पैनल को सही दिशा में और अच्छे-अच्छे किस्म के ढांचे का आवश्यकता होता है सोलर पैनल ढांचा मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं जो निम्न है:-

  1. ओन ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम ( On Grid Solar Panel System )
  2. ऑफ ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम ( Off Grid Solar Panel System )
  3. हाइब्रिड सोलर पैनल सिस्टम ( Hybrid Solar Panel System )

इन तीनों प्रकार के पैनल ढांचा में से आप लोग कौन सा सोलर पैनल उपयोग करें इसकी जानकारी में आप लोगों को नीचे प्रत्येक पैनल ढांचा के बारे में विस्तार को जानकारी प्रदान करता हूं

ओन ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम (On Grid Solar Panel System)

 यह सोलर पैनल सिस्टम मैं एक फोटोवोल्टिक सौर प्लेट होती है जिस पर सूर्य का प्रकाश गिरने से विद्युत ऊर्जा इनवर्टर के द्वारा घर  मैं लगे उपकरणों में विद्युत सप्लाई करता है इसके अलावा विद्युत को बिजली बोर्ड में पहुंचाया जाता है  इस सोलर पैनल सिस्टम में जब रात को बिजली उत्पन्न होना बंद हो जाता है तो घर में भी बिजली का सप्लाई बंद हो जाता है

ऑफ ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम (Off Grid Solar Panel System)

इस सोलर पैनल सिस्टम में एक सोलर पैनल होता है जिस पर सूर्य का किरण  गिरने से उत्पन्न बिजली इनवर्टर के द्वारा घर में बिजली सप्लाई होता है लेकिन इस सिस्टम में एक बैटरी साथ में होती है जिसके द्वारा  उत्पन्न बिजली को एकत्र करके रखा जाता है जब रात के समय बिजली उत्पन्न होना बंद हो जाता है तो इस समय बैटरी के द्वारा बिजली का सप्लाई घर में होता है

हाइब्रिड सोलर पैनल सिस्टम (Hybrid Solar Panel System)

इस सोलर पैनल सिस्टम में आपको ओन ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम  एवं ऑफ ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम दोनों उपलब्ध होते हैं हाइब्रिड सोलर पैनल सिस्टम मैं सोलर पैनल के साथ बैटरी एवं इनवर्टर उपलब्ध होते हैं इसके द्वारा हम लोग DC से AC मैं परिवर्तन करके घरेलू कार्यों में उपयोग करते हैं

ऊपर दिए गए सभी उपकरणों को मिलकर सोलर सिस्टम पैनल बनाने में कल कीमतों का लिस्ट निम्न रूप से प्रदान किया गया है |

सोलर पैनल की क्षमतासोलर पैनल की अनुमानित कीमत सब्सिडी के साथ 40%
1 किलोवाट₹60000 से लेकर ₹100000 तक
2 किलोवाट₹120000 से लेकर ₹200000 तक
3 किलोवाट₹165000 से लेकर ₹200000 तक
5 किलोवाट₹250000 से लेकर ₹450000 तक
10 किलोवाट₹525000 से लेकर ₹800000 तक

एक घर को बिजली प्रदान करने के लिए के लिए कितना सोलर पैनल चाहिए

सबसे पहले हम लोगों को यह देखना होगा कि हम लोगों के घरों में प्रतिदिन कितना बिजली का उपयोग होता है अर्थात आपके घरों में प्रत्येक दिन कितना यूनिट बिजली का खपत होता है मान लीजिए आपके घर पर प्रतिदिन 10 यूनिट बिजली का खपत होता है तो महीने का 300 यूनिट बिजली का खपत होगा

इसके हिसाब से आप लोगों को ऐसा सोलर पैनल लेना होगा जो एक दिन में 10 मिनट बिजली का निर्माण कर सके
1kw कि सोलर पैनल  के द्वारा 1 दिन में लगभग 4-5 Unit  बिजली  का निर्माण होता है . तो इस प्रकार से आपको 2kw के सोलर पैनल की की जरूरत होगी |

आप लोग चाहे तो 2kw का सोलर सिस्टम आफ 330w के 6 पैनल लगाकर भी बिजली तैयार कर सकते हैं | 500w के 4 सोलर पैनल लगाकर भी बिजली तैयार कर सकते हैं |

ऊपर दिए गए जानकारी के माध्यम से आप लोग समझ गए होंगे कि आप लोग अपने घर के बिजली उपयोग के हिसाब से अपने घर में सोलर पैनल लगा सकते हैं |

Solar Rooftop System क्या है?

Solar Rooftop System Kya Hai: वर्तमान समय में बढ़ती  महंगाई को ध्यान में रखकर केंद्र सरकार ने Solar Rooftop System योजना का शुभारंभ किए हैं इस योजना के तहत बिना किसी लागत के सूर्य के द्वारा प्राप्त रोशनी से बिजली उत्पन्न की जा सकती है जिसे लोगों के बिजली बिल में काफी राहत प्रदान होगी सोलर पैनल आपके घरों पर लगाने के लिए 500 किलो वाट तक के New Solar Panel For Home Installation पर केंद्र सरकार के द्वारा 20% तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है | इस योजना के तहत आप लोगों को 19 साल से लेकर 20 साल तक फ्री में सौर ऊर्जा प्राप्त होगी |

निष्कर्ष

उम्मीद करता हूं कि हमारा द्वारा लिखा गया आर्टिकल घर पर सोलर पैनल लगाने में कितना खर्च आता है? Free में सोलर पैनल कैसे लगवाए? इसकी पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान की गई है जो आप लोगों को काफी पसंद आया होगा ऐसे में आप हमारी इस आर्टिकल संबंधित कोई प्रश्न आपके मन में है तो आप लोग हमारे कमेंट बॉक्स में आकर अपने प्रश्नों को पूछ सकते हैं मैं आपके प्रश्नों का जवाब जरूर दूंगा |

FAQ’s: घर के लिए सोलर सिस्टम या सोलर पैनल | Solar Panel for Home

Q.सोलर पैनल ढांचा कितने प्रकार के होते हैं

A.सोलर पैनल ढांचा मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं जो निम्न है:-

  1. ओन ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम
  2. ऑफ ग्रिड सोलर पैनल सिस्टम
  3. हाइब्रिड सोलर पैनल सिस्टम

Q.सोलर पैनल कितने प्रकार के होते हैं

A.सोलर पैनल मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं:-

●  पॉलीक्रिस्टलाइन (Polycrystalline)

●  मोनोक्रिस्टलाइन (Monocrystalline)

Q.सोलर सिस्टम के इनवर्टर का कार्य क्या है

Ans. सोलर सिस्टम के इनवर्टर का मुख्य कार्य सोलर पैनल के द्वारा उत्पन्न बिजली को DC करंट को AC  करंट परिवर्तन करना है |

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easybhulekh.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *