यह हैं भारत के सबसे पॉपुलर सोलर पैनल जानिए क्या खास हैं इसमें? Better Solar Panel?

By | October 3, 2023

सोलर पैनल कौन सा बेहतर रहता है? Better Solar Panel: घर में कौन सा सोलर पैनल लगाना बेहतर होगा तो हम आपको बता दें कि आप अपने घर में बायफेशियल सोलर पैनल का इस्तेमाल कर सकते हैं इसके माध्यम से आप घर के सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को आप आसानी से चला सकते हैं इसके बारे में हम विस्तार से आर्टिकल में आपको बताएंगे चलिए जानते हैं-

घर में कौन सा सोलर पैनल लगाना बेहतर होगा तो हम आपको बता दें कि आप अपने घर में बायफेशियल सोलर पैनल का इस्तेमाल कर सकते हैं इसके माध्यम से आप घर के सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को आप आसानी से चला सकते हैं इसके बारे में हम विस्तार से आर्टिकल में आपको बताएंगे चलिए जानते हैं-

बायफेशियल सोलर पैनल क्या है? Bifacial Solar Panels Kya Hai

Bifacial Solar Panels Kya Hai

बाईफेशियल सोलर पैनल सोलर  सोलर की दुनिया में एक लेटेस्ट टेक्नोलॉजी है हम आपको बता दें कि भारत में यह एक ऐसा सोलर पैनल है जिसमें बिजली आगे और पीछे दोनों तरफ से बनाई जा सकती है और सबसे महत्वपूर्ण बातें की दूसरे सोलर पैनल के मुकाबले इसमें बिजली उत्पन्न करने की क्षमता अधिक होती है इसके अलावा इस प्रकार का सोलर पैनल 440 watt तक  का होता है जो कि 500 से 550 watt तक बिजली बनाने की क्षमता रखता है। 

इन्हे भी ध्यान से पढ़ें:- सबसे अच्छा सोलर पैनल कौन सा है?

बायफेशियल सोलर पैनल कैसे बनता है? Bifacial Solar Panels

 फेशियल सोलर पैनल को बनाने में खास प्रकार के Cell का इस्तेमाल किया जाता है। इसका स्वरूप पारदर्शी होता है जिसके कारण से आगे और पीछे दोनों तरफ से बिजली बनाई जा सकती है हम आपको बता दें कि इसमें सेल की सुरक्षा के लिए के ऊपर और नीचे टेंपर्ड ग्लास (EVA फिल्म) लगा होता है। ताकि सेल की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके इसके अलावा बाईफेशियल सोलर पैनल बाहरी सुरक्षा के लिए आगे-पीछे दोनों तरफ ग्लास लगाया जाता है।

कैसे काम करता है बायफेशियल सोलर पैनल?

Bifacial Solar Panels Kaise Kam Karta Hai: भाई फेशियल सोलर पैनल में अन्य पैनल की तरह ऊपर से आने वाली सूरज की किरणें के द्वारा से बिजली बनाया जाता है परंतु जैसा कि हमने आपको बताया किया पारदर्शी होता है और इसके अंदर विशेष प्रकार के सेल लगाए जाते हैं जिसके कारण सूरज से आने वाली किरणें जब इस पैनल के आर पार निकल जाती हैं तब कितने पैनल के पीछे की सतह से टकराकर रिफ्लेक्ट होकर वापस आती हैं जिसके कारण सोलर पैनल के पिछली तरफ से भी बिजली बनाया जा सकता है |

इन्हे भी ध्यान से पढ़ें:- सोलर फ्रेंचाइजी कैसे ले?

क्या बायफेशियल सोलर पैनल दोनों तरफ से बराबर मात्रा में बिजली बनाता है?

नहीं यह सोलर पैनल दोनों तरफ से  बराबर परिणाम में बिजली उत्पादन नहीं होता है हम आपको बता दें कि आगे की तरफ से 90% से 100% बिजली बनता है जबकि पीछे से 25% से लेकर 30% तक की बिजली को ही उत्पन्न किया जा सकता है

 बाईफेशियल सोलर एफिशिएंसी कितनी है?

बाईफेशियल सोलर पैनल की एफिशिएंसी भारत के बाजार में मिलने वाले दूसरे सोलर पैनल के मुकाबले अधिक है हम आपको बता दें कि इसकी कार्यक्षमता 27% होती है और दोनों तरफ से बिजली बनाने की क्षमता भी इसके अंदर विकसित की गई है यही वजह है कि इस अधिकांश लोगों के द्वारा पसंद किया जा रहा है और अगर आप भी अपने घर में सोलर पैनल लगाना चाहते हैं तो आप इसे खरीद सकते हैं भारतीय बाजारों में मिल रहे अन्य सोलर पैनल के मुकाबले काफी ज्यादा है।  दोनों तरफ से बिजली बनाने की क्षमता होने की वजह से यह पैनल 5 से 30%  अधिक बिजली उत्पन्न कर सकता है जबकि इसके विपरीत जबकि मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की एफिशिएंसी 20 से 22% होती है और पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की एफिशिएंसी 15 से 17% होती है।

इन्हे भी ध्यान से पढ़ें:- सबसे सस्ता सोलर पैनल कौन सा है?

बाईफेशियल सोलर के फायदे क्या है? Bifacial Solar Panels Ke Fayde Kya Hai

बाईफेशियल सोलर पैनल का फायदा इस बात पर निर्भर करेगा कि आप इसे किस जगह लगा रहे हैं उसके मुताबिक कि आप इसका लाभ उठा पाएंगे

पानी के ऊपर अगर आप इसे लगते हैं 7% अधिक बिजली यानी 470 वाट तक बिजली आप प्राप्त कर सकते हैं

– घास के ऊपर लगाने पर 10% अधिक यानी 485 वाट तक बिजली आप प्राप्त कर सकते हैं

– कंक्रीट ग्राउंड के ऊपरी सतह पर अगर आप इसे लगा लेते हैं तो उसे आप 13% अधिक यानी 495 वाट तक बिजली प्राप्त कर सकते हैं

यदि आप रेत  के ऊपर इसे लगा लेते हैं तो उसे 15% अधिक यानी 505 वाट तक बिजली आसानी से प्राप्त कर सकते हैं

– यदि आप इस पैनल को वाइट कोटिड ग्राउंड के ऊपर लगाते हैं तो  इस पैनल के द्वारा सबसे ज्यादा 20% यानी 530 वाट तक बिजली आसानी से बनाया जा सकता है  इसके अलावा भी इससे कई प्रकार के फायदे आपको मिल सकते हैं जिसका संक्षिप्त विवरण नीचे दे रहा है

●  कम जगह में अधिक बिजली बनाता है

●  घर को  क्लासिकल लुक देता है

● सोलर की दुनिया में सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी है।

बायफेशियल सोलर पैनल की कीमत कितनी है?

बाईफेशियल सोलर पैनल एक एडवांस और नई सोलर पैनल टेक्नोलॉजी है जिसका इस्तेमाल बहुत ही कम लोगों के द्वारा किया जा रहा है क्योंकि इसके बारे में जानकारी कई लोगों को नहीं है इसलिए अगर आप भी इसे खरीदना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले इसकी कीमत के बारे में जानना होगा तो हम आपको बता दें कि बाईफेशियल सोलर पैनल की  औसत कीमत 28 रुपये से 30 रुपये प्रति वाट है। 

भारत में बायफेशियल सोलर पैनल निर्माता कौन-कौन है?

भारत के बाजार में  बायफेशियल सोलर पैनल बनाने वाली कंपनियां निम्नलिखित प्रकार की है जिसका पूरा विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं आए जानते हैं-

-Loom Solar Company

निष्कर्ष: उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल आपको पसंद आया होगा ऐसे में अगर आपको आर्टिकल संबंधित कोई भी सवाल या प्रश्न है तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में जाकर पूछ सकते हैं तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में

आप लोगों को मालूम होगा कि भारत में सोलर एनर्जी को प्रसारित करने के उद्देश्य देश में कई प्रकार की योजना का संचालन हो रहा है ताकि अधिक  लोग अपने घर में सोलर एनर्जी का इस्तेमाल कर सके क्योंकि आने वाले समय में प्रकृति संसाधन पूरी तरह से समाप्त हो जाएंगे इसलिए सोलर एनर्जी को ऊर्जा के विकल्प के तौर पर तैयार किया जा रहा है ताकि भविष्य में ऊर्जा की आपूर्ति आसानी से हो सके ऐसे में अगर आप भी अपने घर में सोलर पैनल लगाना चाहते हैं लेकिन आपको समझ में नहीं आ रहा है कि कौन सा सोलर पैनल घर में लगाना बेहतर होगा अगर आप उसके बारे में नहीं जानते हैं तो आज के आर्टिकल में हम आपको सोलर पैनल कौन सा बेहतर रहता है? आईए जानते हैं उसके बारे में विस्तार से-

सोलर पैनल कौन-सा बेहतर रहता है? Solar Panel Konsa Best Hai

घर में कौन सा सोलर पैनल लगाना बेहतर होगा तो हम आपको बता दें कि आप अपने घर में बायफेशियल सोलर पैनल का इस्तेमाल कर सकते हैं इसके माध्यम से आप घर के सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को आप आसानी से चला सकते हैं इसके बारे में हम विस्तार से आर्टिकल में आपको बताएंगे चलिए जानते हैं-

बायफेशियल सोलर पैनल क्या है? Bifacial Solar Panels Kya Hai

What is Bifacial Solar? बाईफेशियल सोलर पैनल सोलर  सोलर की दुनिया में एक लेटेस्ट टेक्नोलॉजी है हम आपको बता दें कि भारत में यह एक ऐसा सोलर पैनल है जिसमें बिजली आगे और पीछे दोनों तरफ से बनाई जा सकती है और सबसे महत्वपूर्ण बातें की दूसरे सोलर पैनल के मुकाबले इसमें बिजली उत्पन्न करने की क्षमता अधिक होती है इसके अलावा इस प्रकार का सोलर पैनल 440 watt तक  का होता है जो कि 500 से 550 Watt तक बिजली बनाने की क्षमता रखता है। 

इन्हे भी ध्यान से पढ़ें:- सबसे छोटा सोलर पैनल कौन सा है?

कैसे बनता है बायफेशियल सोलर पैनल?

Bifacial Solar Kaise Banta Hai: फेशियल सोलर पैनल को बनाने में खास प्रकार के Cell का इस्तेमाल किया जाता है।  इसका स्वरूप पारदर्शी होता है जिसके कारण से आगे और पीछे दोनों तरफ से बिजली बनाई जा सकती है हम आपको बता दें कि इसमें सेल की सुरक्षा के लिए के ऊपर और नीचे टेंपर्ड ग्लास (EVA फिल्म) लगा होता है। ताकि सेल की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके इसके अलावा बाईफेशियल सोलर पैनल बाहरी सुरक्षा के लिए आगे-पीछे दोनों तरफ ग्लास लगाया जाता है।

कैसे काम करता है बायफेशियल सोलर पैनल?

भाई फेशियल सोलर पैनल में अन्य पैनल की तरह ऊपर से आने वाली सूरज की किरणें के द्वारा से बिजली बनाया जाता है परंतु जैसा कि हमने आपको बताया किया पारदर्शी होता है और इसके अंदर विशेष प्रकार के सेल लगाए जाते हैं जिसके कारण सूरज से आने वाली किरणें जब इस पैनल के आर पार निकल जाती हैं तब कितने पैनल के पीछे की सतह से टकराकर रिफ्लेक्ट होकर वापस आती हैं जिसके कारण सोलर पैनल के पिछली तरफ से भी बिजली बनाया जा सकता है |

क्या बायफेशियल सोलर पैनल दोनों तरफ से बराबर मात्रा में बिजली बनाता है?

नहीं यह सोलर पैनल दोनों तरफ से  बराबर परिणाम में बिजली उत्पादन नहीं होता है हम आपको बता दें कि आगे की तरफ से 90% से 100% बिजली बनता है जबकि पीछे से 25% से लेकर 30% तक की बिजली को ही उत्पन्न किया जा सकता है |

और पढ़ें: पतंजलि सोलर पैनल की रेट क्या है?

बाईफेशियल सोलर एफिशिएंसी कितनी है? Bifacial Solar Efficiency Kitni Hai

बाईफेशियल सोलर पैनल की एफिशिएंसी भारत के बाजार में मिलने वाले दूसरे सोलर पैनल के मुकाबले अधिक है हम आपको बता दें कि इसकी कार्यक्षमता 27% होती है और दोनों तरफ से बिजली बनाने की क्षमता भी इसके अंदर विकसित की गई है यही वजह है कि इस अधिकांश लोगों के द्वारा पसंद किया जा रहा है और अगर आप भी अपने घर में सोलर पैनल लगाना चाहते हैं तो आप इसे खरीद सकते हैं भारतीय बाजारों में मिल रहे अन्य सोलर पैनल के मुकाबले काफी ज्यादा है। दोनों तरफ से बिजली बनाने की क्षमता होने की वजह से यह पैनल 5 से 30%  अधिक बिजली उत्पन्न कर सकता है जबकि इसके विपरीत जबकि मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की एफिशिएंसी 20 से 22% होती है और पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की एफिशिएंसी 15 से 17% होती है।

बाईफेशियल सोलर के फायदे क्या है? Bifacial Solar Ke Fayde Kya Hai

– बाईफेशियल सोलर पैनल का फायदा इस बात पर निर्भर करेगा कि आप इसे किस जगह लगा रहे हैं उसके मुताबिक कि आप इसका लाभ उठा पाएंगे

पानी के ऊपर अगर आप इसे लगते हैं 7% अधिक बिजली यानी 470 वाट तक बिजली आप प्राप्त कर सकते हैं

– घास के ऊपर लगाने पर 10% अधिक यानी 485 वाट तक बिजली आप प्राप्त कर सकते हैं

– कंक्रीट ग्राउंड के ऊपरी सतह पर अगर आप इसे लगा लेते हैं तो उसे आप 13% अधिक यानी 495 वाट तक बिजली प्राप्त कर सकते हैं

यदि आप रेत  के ऊपर इसे लगा लेते हैं तो उसे 15% अधिक यानी 505 वाट तक बिजली आसानी से प्राप्त कर सकते हैं

– यदि आप इस पैनल को वाइट कोटिड ग्राउंड के ऊपर लगाते हैं तो  इस पैनल के द्वारा सबसे ज्यादा 20% यानी 530 वाट तक बिजली आसानी से बनाया जा सकता है  इसके अलावा भी इससे कई प्रकार के फायदे आपको मिल सकते हैं जिसका संक्षिप्त विवरण नीचे दे रहा है

● कम जगह में अधिक बिजली बनाता है

●  घर को  क्लासिकल लुक देता है

●  सोलर की दुनिया में सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी है।

ये भी पढ़ें:- लुमिनस सोलर पैनल प्राइस लिस्ट 2023

बायफेशियल सोलर पैनल की कीमत कितनी है? Bifacial Solar Panel Price

बाईफेशियल सोलर पैनल एक एडवांस और नई सोलर पैनल टेक्नोलॉजी है जिसका इस्तेमाल बहुत ही कम लोगों के द्वारा किया जा रहा है क्योंकि इसके बारे में जानकारी कई लोगों को नहीं है इसलिए अगर आप भी इसे खरीदना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले इसकी कीमत के बारे में जानना होगा तो हम आपको बता दें कि बाईफेशियल सोलर पैनल की  औसत कीमत 28 रुपये से 30 रुपये प्रति वाट है। 

भारत में बायफेशियल सोलर पैनल निर्माता कौन-कौन है?

Bifacial Solar Panel Company: भारत के बाजार में  बायफेशियल सोलर पैनल बनाने वाली कंपनियां निम्नलिखित प्रकार की है जिसका पूरा विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं आए जानते हैं-

●  Loom Solar Company

निष्कर्ष:

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल आपको पसंद आया होगा ऐसे में अगर आपको आर्टिकल संबंधित कोई भी सवाल या प्रश्न है तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में जाकर पूछ सकते हैं तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में-

इस ब्लॉग पोस्ट पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद। इसी प्रकार के बेहतरीन सूचनाप्रद एवं ज्ञानवर्धक लेख easybhulekh.in पर पढ़ते रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *